0
रुधिर-आधान के समय किसी शिरा में, जंहा दाब 2000 Pa हैं, एक सुई धँसाई जाती हैं। रुधिर के पात्र को किस ऊंचाई पर रखा जाना चाहिए ताकि शिरा में रक्त ठीक-ठीक प्रवेश कर सके। (सम्पूर्ण रुधिर का घनत्व सारणी 10.1 में दिया गया हैं)